Web designing Course In Hindi | Web Developer बने

0
85
Web Designing Course in hindi

Web Designing Course in hindi: Web Designing क्या है? हम पिछले आर्टिकल में जाने थे, आज की आर्टिकल में आपको web designing course कैसे करे, वेब डिजाइनिंग कोर्स का syllabus क्या है और कोन सा Institute में जाए|

Website designer India में बहुत तेज़ी से आगे बढ़ रहा है| Website designer का डिमांड काफी ज्यादा है| 2022 तक India की बात करू तो लगभग 80% business online होने वाले हैं|

Business को online ले जाने से बहुत सारे फायदे होते है, और Business को online ले जाने के लिए आपके पास एक website होना जरुरी हैं| जब आपका बिज़नेस ऑनलाइन हो जाता है तो आपकी टारगेट ऑडियंस आसानी से आपसे संपर्क कर सकते है|

Advertisement

तो आप web designing course in Hindi करके अपना करियर बनाना चाहते है तो easily बना सकते है, एक समय जब आपके पास web designing में experience हो जाता है तो आप अच्छा पैसा कमा सकते है|

Web designing कैसे करे?

अगर आप छोटे शहर से हो या बड़े शहर से web designing institute हर सिटी में उपलब्ध है| उस institute में जाकर अपना कोर्स कम्पलीट कर सकते है मगर institute और Course लेने से पहले कुछ बाते जानना होगा ताकि आप ठगी होने से बचे|

मार्किट में कुछ ऐसा institute है जो आपसे पैसा वसूल लेगा लेकिन पूरी course complete नहीं कराएगा, institute सेलेक्ट करने से पहले यह देखना होगा की वह institute training certificate provide कर रहा है या नहीं| भारत सरकार से मान्यता प्राप्त है या नहीं| certificate होने से कोई भी कंपनी आपको Job Offer कर सकती है| institute सेलेक्ट करने से पहले यह भी देखे की उसकी syllabus क्या है कही old syllabus तो नहीं हैं| मार्किट में ट्रेंडिंग में चल रहा है syllabus में वही होना चाहिए| साथी-साथ यह भी देख ले की institute जॉब provide कराती है या नहीं|

इसके लिए आप खुद से उस institute में जाए, web design course के बारेमे अच्छे से पूछे| syllabus के बारेमे पूरी जानकारी ले क्योंकि syllabus में बहुत सारे ऐसे टॉपिक होंगे जिसकी आपको जरुरत नहीं होगी और वह आप से fee लेंगे|

Web designing Course इतने महंगे क्यों होते है?

Web design course देखा जाये तो:

6 months course: Rs. 40,000 – Rs. 50,000

1 Year Course: Rs. 80,000 – Rs. 100,000

Alt Days: M, W, F or T, T, S For 2 Hours

Note: Fee estimate करके बताया हु जो इससे कम भी हो सकते है और ज्यादा भी वह institute पर भर परेका आपको किस तरहा की syllabus दे रहा है|

Web design course इतना महंगा तो नहीं होता है मगर institute वाले बोला जायेगा Adobe Certified Instructor आपका faculty होगा जो आपको पढ़ायेगा| लेकिन ऐसा कभी-कभी होता है जो Adobe Certified Instructor आपका faculty हो और आपको सिखाये| बहुत सारे उसी institute के students होते है तो institute से course completed होने के बाद faculty बन जाता है|

दूसरा एक कारन यह भी हो सकता है कोर्स महंगे होने की institute में बोला जायेगा जो भी syllabus है सभी latest trends है लेकिन हकीकत में उसकी Basic tutorial ही होती है|

Web designing institute select करने से पहले institute के बारेमे अच्छे से जानकारी कर ले उसके बाद join करे|

Web designing Syllabus कैसे सेलेक्ट करे|

Syllabus आपको सभी select नहीं करना हैं, institute जो भी syllabus दे रहा है उस में से select करके पढ़े, बेसिक जान्ने के बाद खुद से सिख सकते है|

कुछ topic निचे दिया गया है जिससे select करके पढ़े:

for Tools:

  • Adobe Photoshop
  • Adobe Illustrator
  • Adobe Dreaweaver
  • For Language:

HTML

  • CSS
  • JAVASCRIPT (Basic)
  • BOOTSTRAP

यह सेलेक्ट करने से आपको ज्यादा पैसा देने की कोई जरुरत नहीं है कम पैसा में आपको course complete

Advertisement
हो जायेगा|

Web designing Course करने का सही तरीका क्या है?

जो भी टॉपिक select करने के लिए बताया हु, वही सेलेक्ट करे और अच्छे institute join करे|

अगर इतना भी सिख लेते है तो आगे खुद प्रैक्टिस कर्क के advance Level तक सिख सकते है|

यह सब में इसलिए बता रहा हु की ताकि आपको ज्यादा पैसा खर्च ना हो, जब मेने कोर्स किया था तब कोर्स सेलेक्ट करके किया था| इसमें मेरा बहुत बड़ा फायदा हुवा था, जो भी पैसा बचाया उससे अपना लैपटॉप ले लिया|

अगर हो सकते तो आप भी ऐसा करे, आपके पास पैसा है तो खुदकी लैपटॉप ले और Practice-Practice करे| Institute में जाने से आपको Web Development के बारेमे आइडियाज मिल जायेगा मगर उस आइडियाज को implement करना है तो प्रैक्टिस करना होगा नहीं तो “नौ दिन में नया और बीस दिनमे बिसर गया”

My opinion Web designing course के लिए

Web designing course in Hindi वह लोग को करना चाहिए जो programming me passionate है, programming सिखने में मज्जा आये और creative थिंकिंग हो|.

सुरुवात में आप कोई अच्छा सा institute की selection करे और syllabus choose करे|

Course लेने के बाद जितना हो सके उतना practice करे| practice करने से confident बढ़ता है उसके साथ आपकी क्रिएटिव थिंकिंग बढेगा और अपनी क्लाइंट को अच्छे से दोस्ती कर पाएंगे|

उम्मीद करता हु यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी, इससे रिलेटेड कोई भी सवाल है तो comment में जरुर पूछे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here