Blogger Blog Ki Basic Setting Kaise Kare Step by Step in Hindi

0
288

ब्लॉगर एक गूगल का सर्विस है, जिसकी मद्दत से हम फ्री में ब्लॉग बनाते हैं| जब कोई ब्लॉगर अपना ब्लॉग blogger.com बनाता है तो बनाने के बाद सबसे पहले pahle Blog Ki Basic Setting karni hoti hai तब जाकर हम अपने ब्लॉग की सारी features इस्तेमाल कर पाएंगे और ब्लॉग एक प्रोफेशनल लगेगा|

अगर आप भी ब्लॉग ब्लॉगर पर बना चुके है तो सबसे पहले ब्लॉग की basic setting करे, ब्लॉग की बेसिक सेटिंग करने से ब्लॉग की अच्छी लुक होगी और विजिटर को पसंद आएगा|

Blogger Blog Ki Basic Setting Kaise Kare

इतना ही नहीं Blog Ki Basic Setting सही रहा तो गूगल में आपकी ब्लॉग जल्द-से-जल्द इंडेक्स करेगा और ब्लॉग पर ट्रैफिक आएगा|

आज में आपको Blogger Blog Ki Full Basic Setting Kaise करते सभी जानकारी Step by Step in Hindi में दूंगा| तो चलिए जानते है:

Blogger Blog Ki Basic Setting Kaise Kare Step by Step in Hindi

इसमें आपको Complete blog ki Basic Setting सामिल है जो की ब्लॉग बनाने के बाद आपको करना हैं|निचे की जितने पॉइंट है सभी को अच्छे से पढ़े|

सबसे पहले आप ब्लॉग की Dashboard में जाये| उसके बाद setting में जाये|

Dashboard >> Setting 

Popular Post:

#1. Basic Setting:

  • Title: यह सेटिंग ब्लॉग के लिए बहुत जरुरी क्युकी आपकी ब्लॉग की टाइटल लोगों को पता चलेगा की आपका ब्लॉग किस चिजसे रिलेटेड हैं| ब्लॉग की टाइटल देते समय ध्यान रहे Title unique होना चाहिए|
  • Description: Description word सुन से आपको पता चल गया होगा, इसमें आप अपने ब्लॉग के बारेमे करीब 160 words तक लिख सकते है और विजिटर को जानकारी करा सकते हैं, आपकी ब्लॉग किस-किस निच से रिलेटेड हैं| Description में जो भी लिखे लेकिन आपका जो टारगेट कीवर्ड है वह Description में जरुर ऐड करे|
  • Blog Language: आपकी ब्लॉग किस भाषा में है वह सेलेक्ट करे, अगर हिंदी में है तो हिंदी सेलेक्ट करे अगर किसीको इंग्लिश में पढना होगा तो वह Hindi to English Translate करके पढ़ सकते है|
  • Adult Content: अगर आपकी ब्लॉग कुछ Adult Content  है तो इस आप्शन को सेलेक्ट करे|
  • Google Analytics Property ID: ब्लॉग पर कोन सा पोस्ट पर कितना ट्रैफिक, किस देश, किस ब्राउज़र से आता है वह सभी जानकारी के लिए Google Analytics की मद्दत लेनी होगी| जिससे आपको यह पता चल जाता है की आपकी मेहनत रंग ला रही है या नहीं|
  • Favicon: SEO पॉइंट व्यू से देखा जाये तो अपने ब्लॉग पर Favicon लगाना जरुरी है? जाने की Favicon क्या होता है? ब्लॉग के लिए क्यों जरुरी हैं?

#2. Privacy

Privacy की मद्दत से आप गूगल यह जानकारी करा सकते है की आपकी ब्लॉग गूगल सर्च में लाये या नहीं, आपका कोई पर्सनल डाटा है जो लोगो को नहीं देखाना चाहते है तो ब्लॉग को प्राइवेट रखे लेकिन ज्यादातर लोग ब्लॉग बनाते है इस लिए की हमारे पास जो भी जानकारी है व दुसरे लोग सिख सके|

#3. Publishing

  • Blog address: इसमें आपको अपनी ब्लॉग की address रहेगा|
  • Custom domain: अगर आपने कही से कस्टम डोमेन खरीदी है तो यहाँ पर लगा सकते है जो कस्टम डोमेन लगाने से ब्लॉग की रैंकिंग अच्छी होती है और विजिटर पसंद करती है|
  • Fallback subdomain: एक फ़ॉलबैक उपडोमेन आपके सामान्य उपडोमेन को लोड करते समय Server Issues से बचने के लिए एक पूर्व उपाय के रूप में जोड़ा गया एक उपडोमेन है| चाहे तो आप इसे छोड़ सकते है|
  • Redirect domain: कस्टम डोमेन लगाने के बाद आप उसपर Redirect कर सकते है|आपके पास एक Top Level Domain है तो ऐड करे: ब्लॉग में टॉप लेवल डोमेन कैसे ऐड करते है जाने:

Top Level Domain Add kare blogger me

 #4. HTTPS:

HTTPS Ka Full Form: Hyper Text Transfer Protocol होता है| HTTP and HTTPS लगाने सिक्यूरिटी बढती है| आप हमेसा HTTP redirect to HTTPS करके रखे|

Popular Post:

#5. Permissions

मानों आप एक ब्लॉग पर दो लोग मिल कर काम कर रहे हो या कोई कंटेंट राइटर को Hire किये हॉट तो उसे Author बना सकते| Blog Ki Basic Setting अच्छे से करे:

  • Blog admins and authors: ब्लॉग की Admins वह होते है जिसके पास ब्लॉग की पूरी एक्सेस होते है और ब्लॉग पर कुछ भी बदलाब कर सकते है| authors की बाते करे तो वह सिर्फ ब्लॉग पर पोस्ट लिख सकते है|
  • Pending author invites: किसीको authors के लिए invite किये हो और वह अभी तक accept नहीं किये है तो उसकी लिस्ट पेंडिंग में दिखेगा|
  • Invite more authors: किसीको को authors बनाना चाहते है तो आप उसकी ईमेल अकाउंट डाल से invite कर सकते है|
  • Reader access: ब्लॉग पर जो भी कंटेंट है वह कौन-कौन पढ़ सकता है वह सेलेक्ट करे|

#6. Posts

  • Max posts shown on main page: कोई विजिटर ब्लॉग विजिट करेगा तो उसे main page पर कितनी पोस्ट देखेगा वह रखे, मिनिमम 7 रख सकते है|
  • Post template (optional): इसे आप खाली छोड़ सकते है यह ऑप्शनल है|
  • Image lightbox: जब ब्लॉग पर कोई इमेज लगाते है तो उसकी साइज़ कम है तो बेहतर होगा, इस आप्शन को हमेसा on रखे ताकि इमेज सही से लोड हो सके|
  • Ideas panel: गूगल ने नए अपडेट में काफी कुछ चेंज किये है, इस ऑप्शनल को On करके अपने निच से रिलेटेड टॉपिक और Question को suggest करता है|

#7. Comments

  • Comment location: ब्लॉग की कमेंट बॉक्स कहा और कैसे देखेगा आप्शन सेलेक्ट करे|
  • Who can comment?: ब्लॉग पर कौन-कौन कमेंट कर सकता है सेलेक्ट करे|
  • Comment moderation: लोग ब्लॉग पर हमेसा स्पैम करते है, उसके लिए किसी भी कमेंट को approve करने से पहले चेक करे, इस ऑप्शनल को सेलेक्ट करते है तो आपकी मर्जी के बिना कोई कमेंट पब्लिश नहीं होगा|
  • Email moderation requests to: कमेंट मॉडरेशन के लिए किस ईमेल पर भेजना चाहते है वह डाले उसी ईमेल पर moderation के लिए जायेगा|
  • Reader comment captcha: कमेंट करते वकत captcha को फिल कराए ताकि कोई बोट्स स्पैम कमेंट ना सकते|

Captcha fill करके पैसे कैसे कमा सकते है जाने

  • Comment form message: कमेंट बॉक्स में कुछ मेसेज देखना चाहते है तो वह लिखे|

#8. Email

  • Posting Using Email:यह सभी ब्लॉगर के लिए बहोत जरुरी है क्योंकि हमारे कंप्यूटर या मोबाइल में खराबी आ सकती है, इसके लिए| इसके लिए Posting Using Email इस्तेमाल करते है| इससे अच्छे से समझने के लिए नीच की पोस्ट पढ़े:

* Blog Post Ko Koi Bhi Email Se Direct Post Kaise Kare

  • Comment Notification Email: इसे Enable करने से ब्लॉग पर कोई कमेंट करेगा उसकी Notification आपको मिल जाएगा|
  • Email Post To: इसकी मद्दत से आप अपने सब्सक्राइबर को ईमेल लिख सकते है जिसे आपका latest post सब्सक्राइबर के पास चला जाये|
  • Formatting: आप कहा के रहने वाले है, उसकी Time Zone क्या है? और ब्लॉग पर Date किस फॉर्मेट में देखेगा वह सेलेक्ट करे| में इंडिया का हु इसलिए (GMT+05:30) India Standard Time – Kolkata किया हु| अगर आप भी इंडिया से है तो अपनी Time Zone यही सेलेक्ट करे| Blogger Blog Ki Basic Setting Kaise Kare Step by Step in Hindi

#9. Meta tags

Meta tags ब्लॉग के लिए काफी महत्वपूर्ण है| गूगल की फर्स्ट पेज पर ब्लॉग को रैंक कराना चाहते है तो Meta tags इनेबल करे और अपनी ब्लॉग से रिलेटेड सभी कीवर्ड को Add करे|

#10. Errors and redirects:

किसी पोस्ट पर Custom 404 error आ रहा है तो दूसरी पोस्ट पर redirects कर दे|

#11. Crawlers and indexing

ब्लॉग पर बहुत सारे ऐसे कंटेंट होते है जिसे हम विजिटर को दिखाना नहीं चाहते, वैसे में आप ब्लॉग पर custom robots.txt File Add कर सकते है और बोट्स को बता सकते है की इन चीजों को मत Crawlers and indexing करे|

Also Read:

#12. Monetization

अगर ब्लॉग पर Google Adsense इस्तेमाल कर रहे है तो custom ads.txt लगाना जरुरी है नहीं तो Adsense से कमाई करने में थोडा कठिनाई हो सकती है|

ब्लॉग पर custom ads.txt  कैसे लगाते है जान सकते है|

#13. Manage Blog

  • Import content: अगर अपनी ब्लॉग को किसी दुसरे प्लेटफार्म पर शिफ्ट करना है तो ब्लॉग की सारी कंटेंट को Import करके शिफ्ट कर सकते है|
  • Back up content: बिच-बिच में अपने ब्लॉग की Back up लेते है ताकि कुछ चेंज करते समय error आया तो फिरसे वापस ला सके|
  • Videos from your blog: ब्लॉग पर कितने वीडियोस है उन सभी को मैनेज करे|
  • Remove your blog: कोई कारन के आप अपनी ब्लॉग को डिलीट करना चाहते है तो कर सकते है|

#14. Site feed

इस ऑप्शनल में आप कुछ चेंज मत करे जैसे है वैसे रहने दे|

#15. General

अगर आप अपनी ब्लॉग को ड्राफ्ट में रखना चाहते है on करे और साथी साथ अपनी ब्लॉग प्रोफाइल में कुछ बदलाब करना चाहते है तो User Profile पर क्लिक करके चेंज कर सकते है|

ब्लॉगर की बेसिक सेटिंग में

Blogger Blog ki basic settings करने से आपकी ब्लॉग एक प्रोफेशनल ब्लॉग दिखने लगेगा साथी साथ अगर आप blogger all settings in hindi अच्छे से कर लेते है तो आपकी ब्लॉग 100% गूगल में रैंक करेगा और ब्लॉग पर अच्छी ट्रैफिक आने लगेगा|

में भी अपनी वर्डप्रेस ब्लॉग की बेसिक सेटिंग करके रखे है और गूगल में रैंक कर रहा है| अपने इस ब्लॉग पर ब्लॉग्गिंग और मेक मनी से रिलेटेड काफी जानकारी शेयर कर चुके है, उन सभी के बारेमे पढता चाहते है तो मेनू में जा कर केटेगरी अनुसार पढ़ सकते है|

उम्मीद करता हु की आपको Blogger blog ki basic setting kaise kare जानकारी अच्छी लगी होगी, अगर अच्छी लगी है तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे और कोई सवाल है तो कमेंट जरुर करे|

Popular Post:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here